गुस्से को काबू में करो ,जीवन खुशहाल बनाओ

गुस्से को काबू में करो जीवन खुशहाल बनाओ

गुस्सा होना मर्द की निशानी है,
पर गुस्से को पी जाना पति की निशानी है !

                         ऐसी कोई बात सही नहीं है जैसी इस फेंके हुए शेर में है I गुस्सा को काबू में करना सबके लिए ही बड़ा मुश्किल होता जा रहा है I हम सब जानते है की गुस्सा करना बहुत ही बुरा और नुकसानदायक गुण है I गुस्सा इंसान के खुद उस इंसान के लिए जहर है , जो गुस्सा करता है I गुस्सा वो बुरा गुण है ,जो एक पल में सबकुछ बरबाद कर सकता है I गुस्सा ही वो खतरनाक गुण है , जिसमे गुस्सा करने वाले को ही नुकसान होता है , जिस पर किया जा रहा है ,वो बेअसर रह सकता है I गुस्से को काबू में करो जीवन खुशहाल बनाओ I



                   ये कैसे हो सकता है कि हम गुस्सा आने के समय अपने आप को रोक नहीं सकते ! पहले तो ये बात साफ़ करनी है कि हम गुस्सा करते है या हमें गुस्सा आता है I अगर हम गुस्से को ऐसी ताकतवर चीज समझते है कि वो जबरदस्ती आता ही है और हमारी खुद की ताकत से भी बड़ा है तो हम उसको रोक नहीं सकेंगे I अगर हम सोचते है कि हम गुस्सा करते है , तो जो काम हम खुद करते है , उसको रोक भी सकते है , उससे से बच भी सकते है I जीवन में जब सब कुछ उल्टा पुल्टा होने लगे
गुस्सा समस्याओं को हल नहीं करता बल्कि और ज्यादा समस्याओं को जन्म देता है ,आपसी रिश्ते एक पल में खराब कर देता है I सिर्फ़ गुस्से को रोकने से और माफ़ करने की भावना दिल में रखने से जिंदगी में बहुत सी शान्ति और ख़ुशी ला सकते है I गुस्से में जो उर्जा अपने आपको बरबाद करने में लगाते है , उतनी उर्जा को तो सही जगह इस्तेमाल करें तो बहुत कुछ आबाद हो सकता है I
“तुम कभी कभी गुस्सा भी कर लिया करो मुझ पर,
यकीन हो जाता है कि अपना तो समझते हो I “

                    इस शेर में कोई सच्चाई नहीं है I बल्कि गुस्से से तो अपने दूर हो जाते है , सारे रिश्ते खराब हो जाते है I इसीलिए हर धर्म में इस को बुरा गुण बताया गया है और बुद्धि का नाश करने वाला बताया गया है क्योंकि गुस्से के वक़्त भले बुरे का कोई ज्ञान नहीं रहता ,आदमी पूरा बरबाद होने या करने को तैयार रहता है I गुस्सा इंसान को पूरा हिला देने वाला दुश्मन है I गुस्से को नियंत्रण में ना रखने वाला हर समय उखड़ा हुआ तनाव में रहता है और जीवन की खुशियाँ महसूस नहीं कर पाता I हम तनावग्रस्त क्यों रहते है



गुस्से को काबू में करो जीवन खुशहाल बनाओ
गुस्सा करने वाला अपने आपको बहादुर समझता है I जबकि गुस्सा तो डर का ही पर्याय है , बहादुर तो वो होते है ,जो गुस्से को पी जाने की ताकत रखते है I गुस्सा तो किसी बात से डर कर ही किया जाता है , अपना अहंकार दिखाने के लिए किया जाता है I गुस्सा करने वाला बड़ी बेवकूफी से ये मान लेता है कि जहर वो खुद पिए और मरे कोई दूसरा !
गुस्से की हालत में हम वो काम कर जाते है , जो सामान्य रूप में हम नहीं करना चाहते I और इसी तरह हर गुस्से का अंत पछतावे पर होता है I जो पता नहीं कितने बड़े नुकसान के बाद होता है I कई बार एक पल का गुस्सा पूरी जिन्दगी पछताने जैसा काम भी करवा देता है I इसका मतलब इस कीमती जिन्दगी की शांति और ख़ुशी हमेशा के लिए समाप्त हो जाती है I कितना महंगा सौदा करते है हम, अगर गुस्सा करते है I
गुस्से से बचने के कुछ उपाय –
1-गुस्से को देखो उसके पीछे अहंकार दिखेगा और अहंकार के पीछे कुछ नहीं लम्बी सांस लो प्रार्थना करो अपनी स्थिति बदलो माफ़ करो बुद्धि पर मत हावी होने डोज तो बुद्धि बता देगी कैसे कंट्रोल. दिमाग पर मत चढ़ने तो , उस वक्त जो ज्यादा उर्जा इकट्ठी हुई उसका उपयोग करो
2-गुस्सा आने पर अपनी पोजीशन बदल लें यानि खड़े हो तो बैठ जाए ,बैठे हो तो लेट जायें या उस जगह से थोड़ी देर के लिए हट जाएँ I गुस्से को रोकने की कोशिश करना जरुरी है ,क्योंकि ये सिर्फ़ नुकसानदेह है I
3-गुस्सा आते ही कुछ अच्छा अच्छा सोचने की कोशिश करें ,किन्ही ख़ुशी के पलों को याद करने की कोशिश करें I मूड कुछ हल्का हो जाएगा I
4-एक धार्मिक और कारगर तरीका ये है कि आपको जिस पर गुस्सा आ रहा है ,उसकी हरकत को भूल जाओ और माफ़ कर दो I इससे आपकी छवि भी लोगों की नज़र में बहुत प्यारी बन जायेगी I
5-एक सात्विक शख्स को गुस्सा कम आता है I बीड़ी,सिगरेट ,तम्बाकू पीने वालों को गुस्सा कंट्रोल के बाहर आता है I तो इसने भी अपने आपको बचाएं I
6-गुस्सा अचानक आता है I कोई बात पता चलते ही आपका दिल उसी वक़्त गुस्सा करने को करता है I गुस्सा करने में थोड़ा वक़्त लगा दें I उस वक़्त के दौरान आपका गुस्सा ठंडा भी हो सकता है I
7-असंभव तो लगता है ,पर गुस्से के वक़्त कोई प्रार्थना करने की कोशिश करें या गिनती गिनने की कोशिश करें I बस गुस्से के पल में अपने आपको व्यस्त करना है I
8-हर वक़्त तनाव में रहने से बचें I तनाव गुस्से का कारण बनता है I



गुस्से को काबू में करो जीवन खुशहाल बनाओ
9-तनाव से बचने के लिए जिम्मेदारियों की भागदौड़ करते हुए ,कभी अपने लिए भी वक़्त निकाले और ऐसे काम करें जिनसे आपको ख़ुशी मिलती है I
10-उपवास रखना भी बहुत महान क्रिया है , अपने आप पर नियंत्रण करने की I
11-सुबह उठते ही अपने माँ बाप का आशीर्वाद या दुआ लें i
12-खुद से गलती हो जाए तो शान्ति से उसको स्वीकार करने की आदत डालनी चाहिए I
13-इतना भी क्या कमज़ोर होना कि खुद पर ही नियंत्रण ना रख सकें I ये बात दिमाग में रखें कि बहादुर लोग ही गुस्से पर नियंत्रण रख सकते है I इसलिए गुस्से से बचने के लिए अपने आप को तैयार रखना चाहिए , जो आज के कठिन दौर में हर पल हम पर हावी हो जाता है I
तो इस तरह से हम एक खतरनाक आदत से छुटकारा पा सकते है I गुस्सा करने से पहले गुस्से से होने वाले स्थाई और बड़े बड़े नुकसान की कल्पना करो I रिश्तों का टूटना मालिक को भी पसंद नहीं और हमारे लिए भी घातक हो सकता है I

                                                                    “Häβëëβ”




गुस्से को काबू में करो जीवन खुशहाल बनाओ